शब्द-संग्रह-०८

सत्य कहा करते समाज में,

समय बड़ा बलशाली है ।

वही चला सकता है इसको,

जो पूर्ण प्रतिभाशाली है ।


और प्रतिभामान, व्यक्ति वही हैं ।

जो पालन करते समय सिद्धांत,

खटक तनिक न जिनको इनकी,

कृतज्ञहिन वह व्यक्ति समान ।


संस्कार ही ! भारतचरित्र है ।

इतिहासों में ऐसा वर्णन हुआ।

परम पूज्य आदरणीयों से,

भारतचरित्र उज्जवल हुआ ।

विनीत

राम रंजन कुमार